GWALIOR NEWS : बंदूक चाहिए तो अब घर के बाहर पौधा लगाकर महीनेभर तक करना होगी देखभाल - Aaj Ki Chitthi : पढ़ें हिंदी न्यूज़, Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी
  • September 27, 2020

GWALIOR NEWS : बंदूक चाहिए तो अब घर के बाहर पौधा लगाकर महीनेभर तक करना होगी देखभाल

A gun should now be planted outside the house and will have to take care of it for a whole month

लगातार कटते वृक्ष और उनकी तुलना में बेहद कम लगते पौधों की संख्या बढाने को लेकर ग्वालियर कलेक्टर का कदम

धे के साथ देखी जाएगी सेल्फी, पटवारी करेगा आवेदन की तस्दीक

ग्वालियर,
बंदूक को लेकर ग्वालियर चंबल संभाग में सिर चढकर बोलने वाले जुनून का अब कलेक्टर ग्वालियर ने सदुपयोग करने का निर्णय लिया है। उन्होंने एक आदेश निकालकर तय कर दिया है कि अब बंदूक तभी मिलेगी, जबकि आवेदक घर के बाहर पौधा लगाएगा और एक माह के पौधे के साथ सेल्फी लेकर उसकी रिपोर्ट पेश करेगा।
मजेदार बात यह है कि कलेक्टर चौधरी ने यह स्कीम फेल न हो इसके लिए लोगों के आवेदनों की जांच पटवारी से कराने का निर्णय किया है और साफ कहा है कि यह जनहित का कदम है और इसे सख्ती से लागू किया जाएगा। इसमें कोई समझौता नहीं किया जाएगा।

480 आवेदन पैडिंग

बताया गया है कि विधानसभा व लोकसभा चुनाव के चलते पिछले 8 माह से अधिक समय से बंदूक लाइसेंस जारी नहीं हुए हैं। लिहाजा कलेक्टोरेट में 2 बोर व 315 बोर हथियार के लाइसेंस चाहने वालों के तकरीवन 480 से ज्यादा जबकि पिस्टल लाइसेंस के 210 करीब आवेदन लंवित हैं। अब यदि उपरोक्त को लाइसेंस चाहिएं तो फिर उन्हें कलेक्टर के उक्त आदेश अनुसार पौधे लगाकर एक माह बाद उनके साथ सेल्फी लेकर कलेक्टर के समक्ष पेश होना होगा, तभी उनके लाइसेंस आवेदन की प्रक्रिया आगे बढ सकेगी।

यह है उद्देश्य

शस्त्र लाइसेंस को लेकर यह आदेश निकालने के पीछे कलेक्टर अनुराग चौधरी की सोच सिर्फ लोगों में पौधरोपण का महत्व जाग्रत करना है। वो कहते हैं कि लोग पौधरोपण को लेकर गंभीर रहें और अपने लगाए हुए पौधे की देखभाल खुद करें। कलेक्टर ने कहा है कि अगले सोमवार को होने वाली टीएल बैठक का विषय भी उन्होंने ग्रीन मीटिंग रखा है। इसमें भी पौधरोपण की प्लानिंग पर बात की जाएगी।

29 हजार से अधिक हैं हथियार

ग्वालियर जिले में हथियारों की संख्या काफी है। विभागीय सूत्रों के अनुसार जिलेभर में वर्तान की स्थिति में 29 हजार 800 लाइसेंसी हथियार हैं।

aajkichitthi

Read Previous

भारत ने तो किया था अलर्ट पर अफसरों ने नहीं दी जानकारी

Read Next

SHIVPURI NEWS : तीन साल के मासूम को भयंकर बीमारी से निजात दिलाने मां ने फिर किया गर्भधारण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *