देश में पहली बार किसी दिव्यांग खिलाड़ी को मिलेगा पैरा-स्वीमर का राष्ट्रीय अवार्ड - Aaj Ki Chitthi : पढ़ें हिंदी न्यूज़, Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी
  • September 28, 2020

देश में पहली बार किसी दिव्यांग खिलाड़ी को मिलेगा पैरा-स्वीमर का राष्ट्रीय अवार्ड

For the first time in the country, a handicapped player will get the National Award for Para-swimmer

भोपाल : सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याणमंत्री  प्रेम सिंह पटेल ने प्रदेश के अंतर्राष्ट्रीय ख्याति-प्राप्त दिव्यांग तैराक सतेन्द्र सिंह लोहिया को प्रतिष्ठित तेनजिंग नॉरगे राष्ट्रीय साहसिक सम्मान-2020 के लिये चयनित होने पर बधाई दी है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 29 अगस्त को नई दिल्ली में यह सम्मान देंगे। सतेन्द्र सिंह यह अवार्ड पाने वाले देश के पहले दिव्यांग खिलाड़ी होंगे। लोहिया अमेरिका में 42 किलोमीटर की केटलीना चैनल सिर्फ 11:34 घंटे में तैरकर पार करने वाले पहले एशियाई दिव्यांग तैराक बने थे।

चैनल में पानी का तापमान लगभग 12 डिग्री होने के साथ ही शार्क मछलियों के हमले का खतरा भी बना रहता है। दिन में तेज चलने वाली हवाओं से बचने के लिये लोहिया ने यह चैनल रात में पार किया, जो एक बड़ी चुनौती थी।
ग्वालियर जिले के ग्राम गाता के रहने वाले लोहिया के पिता गयाराम लोहिया वर्तमान में ग्वालियर के मुथूट फायनेंस में सिक्यूरिटी गार्ड हैं।  लोहिया इंदौर में वाणिज्यिक कर विभाग में कार्यरत हैं। लोहिया कहते हैं मैंने अपनी दिक्कतों को ही अपनी ताकत बना लिया है। दिव्यांगों को सहानुभूति की नहीं, सहयोग और सम्मान की जरूरत होती है।

विश्व दिव्यांग दिवस पर उपराष्ट्रपति वैंकेंया नायडू द्वारा सर्वश्रेष्ठ दिव्यांग खिलाड़ी नेशनल अवार्ड से सम्मानित पैरा-स्वीमर सतेन्द्र को मध्यप्रदेश के सर्वोच्च खेल अवार्ड से भी नवाजा जा चुका है। सतेन्द्र सिंह लोहिया ने ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में ओलम्पिक स्वीमिंग एनएसडब्ल्यू-2017 स्टेट ओपन चैम्पियनशिप में भारत के लिये स्वर्ण-पदक जीता। उन्होंने मई-2017 में ओपन वाटर सी-स्वीमिंग फीट ऑफ 33 किलोमीटर को पार किया।

लोहिया ने 24 जून, 2018 को इंग्लिश चैनल स्वीमिंग में पैरा-स्वीमिंग रिले टीम के माध्यम से कीर्तिमान स्थापित किया और 18 अगस्त, 2019 को कैटलीना इंग्लिश चैनल पार कर इतिहास रचा। राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में शतेन्द्र ने मध्यप्रदेश के लिये 12 रजत एवं 8 काँस्य-पदक हासिल किये हैं।

aajkichitthi

Read Previous

श्योपुर : श्योपुर विधायक का भाजपा पर बढ़ा आरोप, बोले भाजपा दे रही 50 करोड़ का ओफर

Read Next

श्योपुर : कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु जिले के समस्त ग्रामो मे चलाया जा रहा है दो गज कि दूरी, मास्क है जरुरी अभियान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *