जानिये शुगर लेवल के बारे में - Aaj Ki Chitthi : पढ़ें हिंदी न्यूज़, Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी
  • November 26, 2020

जानिये शुगर लेवल के बारे में

Learn about sugar level

डॉक्टर्स का कहना है की इंसुलोइन की डोज़ के बाद भी अगर शुगर लेवल कंट्रोल में न रहे, तो ऐसे मरीज को खराब असर से बचने के लिए तुरंत इसे कंट्रोल में लाने के लिए इलाज कराना चाहिए. डॉक्टरों का मानना है कि कई बार अनकंट्रोल लेवल पर शुगर होने के बाद भी इंसान को लक्षण नहीं दिखता.

कई बार अनकंट्रोल होने के बाद भी उन पर असर नहीं होता है, तो कई बार अचानक इसका असर होता है और यह असर बड़े लेवल पर होता है जो बॉडी के कई ऑगर्न्स को डैमेज भी कर देता है. इसलिए अगर किसी को भी ऐसा है तो उन्हें इसे हल्के में लेने के बजाए इसका इलाज कराना चाहिए. हालांकि डॉक्टरों का मानना है कि 250 से ऊपर शुगर लेवल के मरीज रोज अस्पताल आते हैं और उनका पूरा इलाज होता है

शुगर लेवल बढ़ने की वजहें 

1) लगातार काम करना 2) दवाई या इंसुलिन का डोज़ पर्याप्त नहीं होना 3) डाइट कंट्रोल में नहीं होना या एक्सर्साइज नहीं करना 4) बॉडी में इन्फेक्शन की वजह से भी शुगर लेवल बढ़ जाता है चाहे इन्फेक्शन चेस्ट में हो, गले में, दांत में या यूरिन में 5) स्ट्रेस की वजह से भी शुगर लेवल अचानक 150 से 200 तक बढ़ जाता है

अनकंट्रोल शुगर लेवल का ये हो सकता है नतीजा

आंखों के रेटिना पर असर हो सकता है. – किडनी पर असर होता है और यूरिन में प्रोटीन आने लगता है. – नसों पर भी इसका असर होता है. – हार्ट पर भी विपरीत असर होता है. – शुगर लेवल जितना ज्यादा होता है, इन्फेक्शन बढ़ने की संभावना उतनी ही बढ़ जाती है.

हर स्थिति का है इलाज 

सबसे पहले अनकंट्रोल शुगर लेवल को कंट्रोल करना चाहिए और 200 से नीचे रखना चाहिए. इसके लिए दवा के साथ-साथ सही डाइट और एक्सर्साइज जरूरी है. रोजाना ऐसे मरीज आते हैं और उनका इलाज होता है. इस बारे में एशियन इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस की डॉक्टर मनीषा पांडेय ने कहा कि कई बार शुगर लेवल 300 से ऊपर होने पर भी दिक्कत नहीं होती है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि ऐसे मरीज ठीक हैं. उन्हें रेगुलर चेकअप कराना चाहिए और पूरा इलाज कराना चाहिए. अगर एक-दो दिन में शुगर लेवल कंट्रोल में नहीं आता है, तो लॉन्ग टर्म डैमेज हो सकता है

aajkichitthi

Read Previous

महिलाएं पुरुषों की तुलना में अधिक समय तक क्यों जीती हैं?

Read Next

चमड़े के जूते की देखभाल कैसे करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com