Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
कटनी में ओवेरलोड रेत भरे वाहनों को जब टीआई ने छोड़ा तो पकड़ने बाली एसआई ने टीआई को फोन लगाकर सुनाई खरी-खोटी - Aaj Ki Chitthi : पढ़ें हिंदी न्यूज़, Latest and Breaking News in Hindi, हिन्दी समाचार, न्यूज़ इन हिंदी

कटनी में ओवेरलोड रेत भरे वाहनों को जब टीआई ने छोड़ा तो पकड़ने बाली एसआई ने टीआई को फोन लगाकर सुनाई खरी-खोटी

बरही थाना

बरही थाना

  • कटनी जिले के बरही होकर उमरिया से दमोह जाने वाले रेत लोड पांच वाहनों पर रोकने पर एसआइ और टीआइ के बीच हुआ विवाद

  • एसआइ ने रात में ही डीआइजी, एसपी और एसडीओपी को दी जानकारी, एसडीओपी के निर्देश पर चार वाहनों को तहसील परिसर में खड़ी करवाया गया

 

कटनी.बरही.
उमरिया जिले के मुरगुड़ी रेत खदान से ओवरलोड रेत परिवहन कर दमोह जाने वाले पांच हाइवा वाहन को बरही में जांच के लिए रोकने के साथ ही महिला एसआइ मीनाक्षी पेंद्रे और टीआइ एनके पांडेय के बीच आधी रात फोन पर हुए विवाद के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। महिला एसआइ ने रात में ही डीआइजी, एसपी और एसडीओपी को सूचना दी। एसपी ने पूरे मामले की जांच के निर्देश दिए।

यह है मामला

बरही थाने में पदस्थ महिला एसआइ मीनाक्षी पेंदे्र ने बताया कि सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात करीब 3 बजे रेत लोड तीन वाहनों को रोका। वाहनों के दस्तावेजों की जांच के दौरान ही विजयराघवगढ़ बाइपास से दो वाहन भागते दिखे। इन तीनों हाइवा को आरक्षक के जिम्में छोड़कर दोनों वाहनों का पीछा किया। दो किलोमीटर की दूरी पर रोका और जांच शुरू की। तभी पहले रोके गए तीन वाहन उसी रोड पर आ गए। उन वाहनों के ड्राइवर ने बताया कि टीआइ ने उन्हें जाने कहा है। इस पर एसआइ ने टीआइ को फोन लगाया और रेत ओवरलोड वाहनों को छोडऩे का कारण पूछा। इस पर टीआइ ने कहा कि तुम कौन होती हो…ए…मैं थाना प्रभारी हूं, मेरे को थाना चलाना है। बतौर एसआइ इस दौरान टीआइ ने बदतमीजी से बात की। जवाब में एसआइ ने कहा मेरी ड्यूटी के दौरान जो भी वाहन गुजरेंगे कार्रवाई करुंगी। इसके बाद उच्चाधिकारियों को जानकारी दी। मौके पर तहसीलदार और अन्य अधिकारी पहुंचे। एसडीओपी के निर्देश पर वाहनों को बरही थाने में खड़ी करवाया गया। एसआइ पेंद्रे ने बताया कि पूरे मामले को लेकर मंगलवार की दोपहर 1 बजे थाना के रोजनामचे में टीआइ एनके पांडे के खिलाफ शिकायत भी दर्ज की है।

विनोद दुबे का वाहन जाने दिया, ड्राइवरों को भागने का मौका दिया:

महिला एसआइ ने आरोप लगाया है कि रात में पकड़े गए पांच हाइवा वाहनों में दमोह के विनोद दुबे का वाहन जाने दिया गया। बताया जा रहा है कि विनोद दुबे दमोह के नेता है। इतना ही नहीं रात में पकड़े गए पांचों वाहनों के ड्राइवरों को भी भागने का मौका दिया गया। दूसरे चालकों की मदद से चार हाइवा वाहनों को बरही तहसील परिसर में खड़ी करवाया गया।

पटरा लगाकर हो रहा था रेत का ओवरलोड परिवहन:

आधी रात स्पॉट पर वाहनों की टीपी की जांच करने पहुंंचे तहसीलदार एसएन त्रिपाठी और नायब तहसीलदार सुरेश सोनी ने मोबाइल पर टीपी का परीक्षण किया। उन्होंने प्रथम दृष्टया माना कि सभी वाहनों में पटरा लगाकर रेत का ओवरलोड परिवहन किया जा रहा था। टीपी वैध है या अवैध इसकी जांच करवाने की बात कही।


रेत लोड वाहनों को छोडऩे के आरोप से बचने के लिए टीआइ ने ड्राइवर का एमएलसी करवाया। भागने का मौका भी दिया। मैने रेत के वाहनों को छोडऩे की जानकारी उच्चाधिकारियों को रात में ही दी थी।
मीनाक्षी पेद्रें एसआइ बरही।

एसआइ द्वारा रेत लोड वाहन चालकों से मारपीट किए जाने का मामला सामने आया है। वह अलग मामला है। चार वाहनों पर रेत ओवरलोड का प्रकरण दर्ज किया गया है। दमोह के जिस वाहन को छोड़ा गया है उस पर ओवरलोड रेत नहीं था।
एनके पांडेय टीआइ बरही।

टीआइ और एसआइ के बीच क्या बात हुई इसकी जांच करवा रहे हैं। एसडीओपी को निर्देश दिए हैं कि जांच कर रिपोर्ट सौंपे। दमोह की गाड़ी छोड़े जाने की भी जांच शामिल है।
ललित शाक्यवार एसपी कटनी

 

aajkichitthi

Read Previous

सतना में ट्रैक्टर और बाइक की भिड़ंत में दो की मौत

Read Next

श्योपुर के कराहल में गणेश का उत्सव मनाने आदिवासी युवक ने खुद को रख दिया गिरवी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *